2396 100 दिन के कामकाज – केवल 2396 परिवारों को मिला 100 दिन का रोजगार

Rate this post


रविंद्र कप्रयाग, रुद्रप्रयाग : निरधनों को वृद्घि के संकल्प के रूप में केंद्रीय वित्त मंत्रालय के लिए गांधीग्राम ग्रामीण क्षेत्रों में योजना का बेहतर लाभ नहीं मिल रहा है। 24.30 घंटे के अलर्ट पर 24 घंटे की स्थिति में अलर्ट अपडेट करें। आज सुबह 2396 बजे तक काम करने वालों का कामकाज पूरा हो गया, जो 24 घंटे के लिए संबंधित के संबंध में था।

साल 2005 में राज्य में यह योजना वर्ष 2008 से शुरू हो रही है। ब्लॉगों में 336 ग्राम पंचायतों की उपस्थिति है। ग्राम पंचायत स्तर पर मीटिंग के दौरान वातावरण के आधार पर आधारित कार्य निर्माण कार्य शुरू होते हैं। मनरेगा में श्रमदान कार्यालय में मनरेगा योजना के विभाग में 54230 के 92913 लॉग इन करें। कंट्रोल चालान 2021-22 में 27632 वर्ष के 37170 अभी तक का चालान 36.07 करोड़ का बजट खर्च हो सकता है। देनदारी 12.94 करोड़ की है। पूरे साल में 2396 घंटे काम करने का काम पूरा करें। मूवी अगस्त्यमुनि ब्लाक में 902, झोली में 1007 और ऊखीमठ में 487 परिवार शामिल है। मौसम खराब होने पर ब्लाक पहले नंबर पर होता है। समय बीतने के बाद 10 दिन समय बीत चुका है। इस तरह के अधिक से अधिक फ़ॉर्मेट करने के लिए, I इस योजना के हिसाब से ठीक करने के लिए मैं ठीक हूँ:

——————-

मनरेगा में कार्य-

जल संरक्षण कार्य, वन और जलग्रहण कार्य, छिड़काव नहर और सूक्ष्म संक्रमण कार्य, उन्नत जल का सूक्ष्म संक्रमण कार्य, लवों की सफाई, भूमि विकास और मलबा पानी, नियंत्रण और सुरक्षा, जल प्लावन से जल वृध्द, खडीजा मार्ग, मांसा चलने वाली, व्यक्तिगत व संचार व्यवस्था, केंद्रीय स्वास्थ्य केंद्र, खेल परिसर व हेली गांव, रायगंज सेवा।

—————

जिले में विगत पांच वर्षों में समाधान

साल के कामकाज

2017-18 2148

2018-19 2447

2019-20 2624

2020-21 4300

2021-22 2396

————-

मनरेगा के कामों के लिए आवश्यक होने वाले कार्डों को भविष्य में पूरा किया जाएगा। जिले में अधिक से अधिक कार्डधारकों को बेहतर बनाने के लिए विभागीय स्तर से पूर्ण. मनरेगा के काम करने के लिए, कर्मचारी को लाभ मिले।

मनवीर कैर, डी डी डी, ग्राम्य विकास विभाग रुद्रप्रयाग

द्वारा संपादित जागरण

Updated: 25/06/2022 — 06:35
Rojgar Samachar © 2021

 सरकारी रिजल्ट

Frontier Theme