Rojgar Samachar

Indian Employment News, Govt Job Vacancy and More..

बिहार में आने वाले हैं लगभग दो लाख सरकारी उपक्रम नीतीश सरकार ने शुरू की कवायद की


पटना
बिहार में नीतीश कुमार (नीतीश कुमार) के नेतृत्व में एनडीए की नई सरकार ने कामकाज संभालने के साथ ही रोजगार के मुद्दे (सरकारी नौकरियां) पर खास फोकस किया है। जानकारी के मुताबिक, अगले साल यानी 2021 में सूबे (बिहार समाचार) में अलग-अलग विभागों में करीब दो लाख सरकारी कर्मचारी आने वाले हैं। इसको लेकर प्रदेश सरकार ने कवायद शुरू कर दी है। सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से खाली पड़े पदों को भरने के लिए आवश्यक आदेश भी जारी कर दिया जाता है। सरकार के इस फैसले का सीधा असर युवाओं को मिलेगा और उनके पास इन लक्ष्यों को हासिल करने का मौका होगा।

तेजस्वी के रोजगार के मुद्दे पर नीतीश सरकार ने उठाया कदम

दरअसल, बिहार चुनाव के दौरान रोजगार का मुद्दा काफी प्रमुखता से उठाया गया था। आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने इस मुद्दे को लेकर सीएम नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा था। यही नहीं चुनाव के दौरान 10 लाख नौकरी के दौरान उनके वादे का असर भी नजर आया और युवाओं का उन्हें अच्छा खासा सपोर्ट मिला। हालांकि, अंतिम नतीजों में महागठबंधन के मुकाबले एनडीए ने बाजी मारी और बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए की सरकार बनी। इस बीच सत्ता में आते ही नीतीश कुमार सरकार ने रोजगार के मुद्दे को प्रमुखता देते हुए इस पर तेजी से कदम उठाने शुरू कर दिया है।

6 विभागों के खाली पड़े पदों को भरने की तैयारी

6-

जानकारी के मुताबिक, बिहार में नए साल यानी 2021 में 6 विभागों के करीब दो लाख खाली पड़े पदों को भरा जाना है। इसमें स्थायी नियुक्ति को लेकर टिप्पणी की प्रक्रिया जारी है। बताया जा रहा है कि इसके अगले कुछ महीनों में पूरा होने की संभावना है। कुछ सहायक प्राध्यापक, प्राइमरी टीचर, आयुष डॉ, जूनियर इंजीनियर, दारोगा, सिपाही सहित अलग-अलग विभागों के दर्जनों पद शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: – ‘लव जिहाद’ क्या सिर्फ बीजेपी का एजेंडा है? गेहलोत गरम, क्या करेंगे नीतीश

शिक्षा, स्वास्थ्य सहित इन विभागों में नियुक्ति होगी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शिक्षा विभाग में 4600 से ज्यादा सहायक प्राध्यापक के पद खाली हैं। प्राइमरी शिक्षकों की भी नियुक्ति होनी है। स्वास्थ्य विभाग में लगभग 3300 आयुष चिकित्सकों के अलावा 10 हजार के करीब नूर और पैरामेडिकल स्टाफ की नियुक्ति की संभावना है। उनके अलावा एक हजार विशेषज्ञ और 2200 सामान्य डॉक्टरों की नियुक्ति की प्रक्रिया भी जल्द शुरू होगी। बिहार पुलिस में दारोगा से लेकर सिपाही तक अलग-अलग करीब 12 हजार से ज्यादा पदों पर नियुक्ति किए गए हैं। इसको लेकर आवश्यक प्रक्रिया शुरू हो गई है।

युवाओं के पास मौका, इन पदों पर आवेदन के लिए रहें तैयार

पंचायती राज विभाग में 1600 के लगभग कार्यपालक सहायकों के पद खाली पड़े हैं। विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग में भी 8 हजार से ज्यादा खाली पदों को भरने की सिफारिश की जा चुकी है। मंत्री अशोक चौधरी ने सभी रिक्त पदों को भरने का एलान किया है। कॉलेज कॉलेजों में शिक्षकों के लगभग 2100 और पॉलिटेक्निक कॉलेजों में 1100 से ज्यादा पदों को भरने के लिए आवश्यक कदम उठाए गए हैं। राजस्व और भूमि सुधार विभाग में भी लगभग 6000 कर्मियों की नियुक्ति को लेकर प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। यह भी अगले दो महीने में पूरा होने की उम्मीद है।

Updated: 22/11/2020 — 11:50

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Rojgar Samachar © 2020

 सरकारी रिजल्ट

Frontier Theme